नयी मामी को चोदा और मज़े किए- 2

फैमिली सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी मामी की चूत का मजा ले रहा था. मामी भी मेरे साथ खूब मजा लेती थी चुदाई का. एक दिन मैंने मामी की गांड मारी.

नमस्कार दोस्तो, मैं आपका राज शर्मा आपका हिन्दी सैक्स कहानी पर स्वागत करता हूं।

जैसा कि आपने कहानी के पहले भाग
सगी मामी के साथ सेक्स की शुरुआत
में पढ़ा कि मेरे मामा के फील्ड जाते ही मैं अपनी मामी को चोदने लग जाता हूं।

>सुबह जब मेरी नींद खुली तो 10 बज चुके थे.
मामी भानजा दोनों नंगे बदन एक दूसरे से लिपट कर सोए हुए थे।
मैं उठा और मामी के होंठों को चूम कर मामी को जगा दिया।

उस दिन हम दोनों साथ साथ नंगे नहाये।

चुदाई के लालच में शाम को सारे काम जल्दी करके हम बिस्तर पर आ गए और रात भर चुदाई की।
फिर हम कभी कभी दिन में भी राउंड लगा देते।

दोस्तो, उसके बाद जब भी मामा फील्ड पर जाते तो मैं मामी को मामा के लंड की कमी नहीं होने देता और अपने लंड से उनकी सेवा करता।